What is lighthouse project in hindi, क्या है लाइटहाउस प्रोजेक्ट?

What Is The Light House Project Stone Foundation Of Which Has Been Laid By PM Narendra Modi | क्या है लाइट हाउस परियोजना, जिसकी पीएम मोदी ने रखी है आधारशिला। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने नई साल के पहले दिन शहरों में रहने वाले गरीब लोगों के लिए बहुत ही सस्ते और टिकाऊ और नई टेक्नोलॉजी के साथ में घर देने की सौगात दी है। आपको ज्ञात होगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले शुक्रवार को चिन्हित 6 शहरों में इन घरों को देने का शिलान्यास किया गया था जोकि यह 6 शहर हैं इंदौर चेन्नई रांची अगरतला लखनऊ और राजकोट में लाइट हाउस प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया गया।

Advertisement
What is lighthouse project in hindi

Highlighted:

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शहरी एरिया में रहने वाले गरीब लोगों को साल के पहले दिन ही लाइट हाउस प्रोजेक्ट के जरिए घर देने की दी सौगात।
  •  प्रधानमंत्री मोदी ने अभी अभी यानी 1 जनवरी 2021 को लाइट हाउस प्रोजेक्ट की सौगात देते हुए  शिलान्यास किया।
  • एल एच पी के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार इंदौर चेन्नई रांची अगरतला लखनऊ और राजकोट में बनाएगी 1000 घर से अधिक जोकि एक नई टेक्नोलॉजी के साथ में बनाए जाएंगे।

शहरी इलाकों में रहने वाले गरीब लोगों को प्रधानमंत्री ने इस नए साल के पहले दिन ही एक बहुत बड़ी सौगात दी है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 जनवरी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 6 राज्यों में ग्लोबल हाउसिंग टेक्नोलॉजी चैलेंज इंडिया के जरिए लाइट हाउस परियोजना की आधारशिला रखी गई। 

What is lighthouse project in hindi, क्या है लाइटहाउस प्रोजेक्ट?: यहां पर हम आपको बताते चलें कि लाइट हाउस प्रोजेक्ट के जरिए जो मकान बनाए जाएंगे वह चल रही ट्रेडिशनल तरीके से बिल्कुल ही अलग होंगे जो मकान बनाए जाएंगे वह बहुत ही तेजी के साथ में बनेंगे क्योंकि इसमें सैंडविच टेक्नोलॉजी का यूज किया जाएगा जो कि ज्यादा तर रेडीमेड सामान ही इस टेक्नोलॉजी के जरिए यूज किया जाता है जो कि घर बनाने के लिए उपयोगी होता है।

करीब ₹500000 में मिलेगा नया आशियाना।

What is lighthouse project in hindi, क्या है लाइटहाउस प्रोजेक्ट?: जैसे कि मैंने पीछे बताया कि यह एक बहुत ही नई टेक्नोलॉजी के साथ में घर निर्माण का कार्य किया जाएगा।उसी हरित निर्माण तकनीक का उपयोग कर शहरी गरीब को घर दिया जाएगा एलएचपी प्रोजेक्ट के जरिए आर्थिक रूप से गरीब व्यक्ति को यह मकान दिए जाएंगे। इसके जरिए करीब ₹475000 में 415 वर्ग फीट के फ्लैट शहरी एरिया में रहने वाले गरीब लोगों को दिए जाएंगे जो कि एक बहुत ही सराहनीय कदम साबित होगा। इतने कम दाम में एक बढ़िया और सपनों का घर मिलने जा रहा है।

 घर की कीमत कितनी होगी।

जैसा की जानकारी मिली है इन नई टेक्नोलॉजी के घरों की कीमत करीब 12 लाख  59  हजार रुपए के आसपास होगी। इस कीमत में से करीब सात लाख 83 हजार केंद्र सरकार और राज्य सरकार अनुदान के रूप में दिए जाएंगे बाकी ₹4 लाख 76 हजार रुपे घर लेने वाले लाभार्थी को देने होंगे।

क्या है लाइट हाउस प्रोजेक्ट की खासियत।

  1. 34.5 वर्ग मीटर क्या होगा  कारपेट एरिया।
  2. एक टावर में 14 मंजिल होंगी।
  3. करीब 1040 फ्लैट बनाए जाने की है योजना।
  4. फ्लैट का साइज 415 वर्ग फिट होगा।

 सिर्फ एक साल में ही पूरा होगा पूरा निर्माण।

What is lighthouse project in hindi, क्या है लाइटहाउस प्रोजेक्ट?: जैसा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिलान्यास करने के बाद बताया कि अगली 26 जनवरी तक इस प्रोजेक्ट को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। और करीब 1000 घर अगली जनवरी 26 तारीख तक पूरा किया जा सकता है। मतलब की करीब 1 दिन में 2.7 घर के आसपास बनाए जाने का लक्ष्य रखा गया है और महीने में करीब 84 या 85 घर का एवरेज निकल कर आ रहा है जिसके हिसाब से आपको अनुमान लग गया होगा कि नए प्रोजेक्ट में जो नई टेक्नोलॉजी इस्तेमाल होने जा रही है।

What is lighthouse project in hindi, क्या है लाइटहाउस प्रोजेक्ट?:

वह कितनी कारगर साबित होगी और इतनी जल्दी इस प्रोजेक्ट को पूरा करना ही अपने आप में एक नया चैलेंज होता है। अगर हम चल रहे ट्रेडिशनल तरीके की बात करें तो चल रहे ट्रेडिशनल तरीके में सालों साल लग जाती हैं लेकिन घर तैयार नहीं हो पाते क्योंकि उन घरों को बनाने में काफी मशक्कत करनी होती है। इसी सब को मध्य नजर रखते हुए श्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस नई टेक्नोलॉजी को अडॉप्ट करने के लिए सलाह भी दी है। और देश के बड़े-बड़े यूनिवर्सिटी कॉलेजों और ऐसे संस्थानों जो इस तरीके के कोर्स, डिग्री आदि देते हैं वह इन प्रोजेक्टों  पर 10-10 15-15 बच्चों का ग्रुप बनाकर लाइव जानकारी लेना आवश्यक है।

What is lighthouse project in hindi, क्या है लाइटहाउस प्रोजेक्ट?: ताकि हमारे देश के बच्चे उस टेक्नोलॉजी में कुछ अपना नया एडिशनल डाल सकें और उस टेक्नोलॉजी को और बेहतर बनाया जा सके अपने भारत के संसाधनों के साथ में मैच किया जा सके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा है कि किसी भी टेक्नोलॉजी को अडॉप्ट करने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी होना बहुत ही जरूरी है।  उस टेक्नोलॉजी को बिना जाने पहचाने ऐड नहीं किया जाना चाहिए।

इसलिए मेरी उन संस्थानों से विनम्र निवेदन है कि वह अपने स्टूडेंट को प्रोजेक्ट पर ले जाकर लाइव इनोवेशन का एक मौका दिया जाना चाहिए और मुझे पूरी उम्मीद है कि हमारे नवयुवक इस नए तकनीक में भी कुछ अपना नया एडिशनल ऐड कर पाएंगे जो कि हमारे देश के साधन संसाधनों के अनुरूप होगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *