Tractor Rally Live।किसान आंदोलन

किसान आंदोलन काफी उग्र होता जा रहा है जैसा कि आपको ज्ञात होगा कि ट्रैक्टर रैली के लिए किसानों को सिर्फ कुछ गाइडलाइन के हिसाब से ही ट्रैक्टर रैली करनी थी लेकिन करीब 8 बजे से पहले ही किसान ट्रैक्टर लेकर निकल गए और किसानों का मानना था कि वह राजपथ पर परेड होने के समय ही अपनी रैली को भी आगे बढ़ाया जाए जिसकी वजह से पुलिस के साथ भी कुछ  झड़प हुई लेकिन भारी पुलिस बल तैनात होने के कारण प्रत्येक बॉर्डर पर पुलिस को शांति व्यवस्था बनाए रखने में काफी मशक्कत करनी पड़ी क्योंकि किसानों की तादाद बहुत ज्यादा होने के कारण पुलिस शांति से बात करने के लिए किसानों को बार-बार बोलती रही लेकिन दिल्ली पुलिस की बातों का ज्यादा असर नए होता हुआ दिखा और भीड़ अपने दस्ते के साथ आरटीओ की तरफ बढ़ती चली गई और पुलिस हेड क्वार्टर पर जाकर  कुछ किसान तो जश्न मनाते हुए देखें की वह पुलिस की बनाई हुई सीमा को लाकर आ गए।

Advertisement

Tractor Rally Live।किसान आंदोलन:  दिन में करीब 1:00 बजे किसान आरटीओ  आरटीओ रोड पर पहुंचने में सफल रहे यहां आपको बताते चलें कि आईटीओ रोड दिल्ली के बीचोबीच है जहां पर किसान पहुंच चुके हैं लेकिन भारी पुलिस बल तैनात होने के कारण पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पर रहे हैं और शुरू में हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा लेकिन भीड़ बेकाबू होने पर पुलिस को भी लाठीचार्ज करना पड़ा लाठी चार्ज करने के दौरान भी कुछ किसान लाल किले की तरफ कूच करने लगे।

Tractor Rally Live।किसान आंदोलन: इस दौरान किसान अपने ट्रैक्टरों को लेकर लाल किले की तरफ जाते समय काफी स्पीड से ट्रैक्टर को चलाया गया जिसकी वजह से वहां तैनात पुलिसकर्मी की जान का खतरा भी बढ़ गया था लेकिन पुलिस वाले भी ट्रैक्टर वालों पर लाठी-डंडे बरसा रहे थे और पुलिस आंदोलनकारियों के ट्रैक्टरों तक पहुंच गई वहां बैठे ट्रैक्टर ड्राइवरों को और ट्रैक्टर पर बैठे हुए लोगों को पुलिस के द्वारा खदेड़ा गया।

  सैकड़ों की तादात में ट्रैक्टरों को आरटीओ रोड से खाली कराया गया।  यह सभी ट्रैक्टर संयुक्त किसान मोर्चा संगठन के बताए जा रहे हैं और यहां पर किसान नेताओं का कहना है कि उनकी संयुक्त मोर्चा किसान संगठन से भी वार्तालाप चल रही है और जो किसान अंदर घुस चुके हैं उनको बाहर आने के लिए भी बोला जा रहा है।

 Tractor Rally Live।किसान आंदोलन: किसान आंदोलनकारी अब दिल्ली के लाल किले तक भी जा पहुंचे हैं जैसा कि मैंने बताया कि पुलिस और आंदोलनकारी आईटीओ के पास आमने सामने भिड़ंत हो गई थी जिसमें कुछ लोगों को चोटें भी आई हैं जवाब में पुलिस की तरफ से भी आंसू गैस के गोले छोड़े गए हैं ताकि भीड़ को तितर-बितर किया जा सके भीड़ बेकाबू होने पर पुलिस ने वाटर कैनन आंसू गैस के गोले लय भारी पुलिस बल तैनात किया हुआ था ताकि कोई असामाजिक स्थिति होने पर निपटा जा सके।

वही हम यूपी की बात करें तो यूपी में पूरी शांति व्यवस्था बनी हुई है कहीं पर भी कोई भी लाठीचार्ज हुड़दंग नहीं दिखाई दे रहा है किसानों के ट्रैक्टर रैली की बात करें तो यूपी के एडीजी प्रशांत कुमार का कहना है कि अभी तक पूरे उत्तर प्रदेश में कहीं पर भी कोई प्रदर्शन नहीं चल रहा है और पूरा उत्तर प्रदेश शांति से गणतंत्र दिवस को मना रहा है अभी तक पूरा देश शांति पूर्वक इस पर्व को एक यादगार पल के रूप में मना रहा है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *