26 December 2019 को सूर्यग्रहण

26 December 2019 को सूर्यग्रहण 

सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर को करीब सुबह 8:00 बजे से शुरू होकर 10:57 तक रहेगा संपूर्ण सूर्य ग्रहण दोपहर के 1:00 बज कर 36 मिनट तक खत्म हो पाएगा|

Advertisement

सूतक काल का समय 2019 के आखिरी सूर्य ग्रहण का शाम 5:32 से  शुरू है।

सूतक काल में कुछ सावधानियां बरतनी चाहिये

भगवान की मूर्ति को सूतक काल के दौरान छूना नहीं चाहिए और सूतक काल बुजुर्गों रोगियों और बच्चों के लिए मान्य नहीं है  जिस दिन सूर्य ग्रहण होता है उस दिन देवी देवताओं के दर्शन करना शुभ नहीं होता बहुत से स्थानों पर सूर्य ग्रहण के दिन मंदिरों केक कपाट बंद होते हैं क्योंकि देवी देवताओं के दर्शन करना अशुभ माना जाता है इसीलिए मंदिर के कपाट बंद कर दिए जाते हैं सूर्य ग्रहण के दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर को पढ़ रहा है ।

सूतक काल 25 दिसंबर दिन बुधवार को जैसे कि ऊपर बताया गया है कि 5:00  बज कर 32 मिनट पर शुरू होगा और 26 दिसंबर की सुबह 10:57 पर खत्म होगा ध्यान रखें इस दिन कोई भी शुभ कार्य करना बहुत घातक सिद्ध हो सकता है तो कृपया कोई भी शुभ कार्य इस दौरान ना करें सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को विशेष का ध्यान रखना चाहिए और भगवान का ध्यान करना चाहिए उस समय गर्भवती महिलाओं का बच्चों का और बुजुर्गों का बाहर निकलना ठीक नहीं माना जाता।

 जब सूतक काल लगा हुआ होता है उस समय कुछ भी खाना पकाना सोना नाखून काटना भोजन पकाना आदि जितने भी इस तरह के कार्य हैं वह सब अशुभ माने जाते हैं सूतक काल के दौरान बच्चे बूढ़े और प्रेग्नेंट महिलाएं भोजन कर सकती हैं लेकिन ध्यान रखें इस समय अचार दूध दही मुरब्बा अन्य जितने भी खाने-पीने की चीजें हैं उनमें तुलसी के पत्ते डाल देने से वह चीजें खराब नहीं होती हैं और तुलसी के पत्ते डालकर ही उन चीजों का प्रयोग करना चाहिए।

ग्रहण के दौरान सूर्य एक चमकदार गोले की तरह होता है और बहुत ही चमकदार दिखाई देता है उस समय बच्चों और गर्भवती महिलाओं को सीधे सूर्य के संपर्क में नहीं आना चाहिए सीधे सूर्य के संपर्क में आना बहुत ही नुकसानदायक सिद्ध होता है पूर्ण सूर्य ग्रहण 1:36 तक खत्म  होगा।  भारत के दक्षिणी इलाकों में बहुत ज्यादा चमकीला सूर्य ग्रहण दिखाई देगा जबकि और क्षेत्र में सूर्य का प्रभाव बहुत हल्का रहेगा ग्रैंड के दौरान भगवान का ध्यान लगाना चाहिए और गायत्री मंत्र का जाप करते रहना चाहिए और जब सूतक समय समाप्त हो जाए तो भगवान की मूर्ति को गंगाजल के साथ स्नान कराकर नए-नए वस्त्र पहनाकर बृजभान करना चाहिए

 ग्रहण के दौरान भरपूर मात्रा में दान करना चाहिए और ग्रहण के बाद गंगा नदी में स्नान करना बहुत ही लाभदायक है शास्त्रों के हिसाब से माना जाता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान गरीब लोगों दो दान करना बहुत ही शुभ माना जाता है इसलिए ज्यादा से ज्यादा अपनी इच्छा अनुसार दान करना चाहिए सूर्य ग्रहण 26 तारीख की सुबह 8:17 से लेकर 10:00 बज कर 57 मिनट तक रहेगा 26 दिसंबर के दिन सूर्य ग्रहण पूरे भारत के साथ साथ एशिया यूरोप ऑस्ट्रेलिया पूर्वी अफ्रीका में भी दिखाई देगा

दिल्ली में सूर्य ग्रहण का प्रारंभ 8:17 पर शुरू होगा और 10:57 पर खत्म होगा इसकी पूर्व पूर्ण अवधि 2 घंटे 40 मिनट रहेगी दिल्ली में सूतक का समय 25 दिसंबर को 5:31 से शुरू होकर 10:57 तक रहेगा।

  दोस्तों  अगर यह जानकारी आपको महत्वपूर्ण लग रही है तो आप कृपया इसको अपने दोस्तों के साथ सगे संबंधियों के साथ शेयर करें ताकि इस पोस्ट के माध्यम से जानकारी ली जा सके धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *